दौड़ने के कुछ जबरदस्त फायदे

Share :
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    1
    Share

अपने आप को फिट और तंदुरुस्त रखने के लिए दौड़ सबसे अच्छा विकल्प हैं। दौड़ना व्यायाम के

सबसे सरल रूपों में से एक है, क्योंकि यह सिर्फ आपके अतिरिक्त वजन को कम करने में ही मदद

नहीं करता है, बल्कि आपको स्वस्थ और फिट बनाने में भी मदद करता है। चाहें बच्चे हो या बड़े या

फिर बूढ़े लोग, हर कोई दौड़ लगा सकता है और यह स्वास्थ्य के लिए भी बहुत ही लाभदायक होता

है। दौड़ने के फायदे है.

 daudane ke fayde

हर दिन 20-30 मिनट दौड़ना संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है। विशेषज्ञ नियमित दौड़ने

का अभ्यास करने वालों के लिए अच्छे रनिंग शूज और दौड़ने की सही तकनीक को समझना जरूरी

मानते हैं। दौड़ने के फायदे है.

दौड़ने के फायदे

हड्डियों को मजबूत करता है

नियमित रूप से दौड़ लगाने से हड्डियां और मांसपेशियां मजबूत बनती हैं। इससे हड्डियों संबंधित

बीमा‍रियों जैसे ऑस्टियोपोरोसिस और अर्थराइटिस होने का खतरा काफी कम हो जाता है। इसके

साथ ही दौड़ने से टांगों और कूल्‍हों की हड्डियों का घनत्‍व भी बढ़ता है।

संपूर्ण मानसिक स्वास्थ्य

दौड़ते समय शरीर में एंड्रोफिन जैसे रसायन उत्पन्न होते हैं, जिनसे खुशी का अहसास होता है और

हम खुद के बारे में अच्छा महसूस करते हैं। तनाव में कमी आती है।


Also Read : गर्भावस्था में नारियल पानी के फायदे


अस्थमा का असर होता है कम

फेफड़े मजबूत होते हैं और धीरे-धीरे निरंतर अभ्यास से श्वसन प्रक्रिया में सुधार होता है।

daudne sehat ke liye faydemand

वजन घटाता है

अगर आपको अपना वजन कम करना है, तो दौड़ने से अच्‍छी एक्‍सरसाइज और कोई नहीं हो

सकती। यह एक बहुत ही लाभदायक कार्डियो एक्‍सरसाइज है जो कि वजन कम करने सहायता

करता हैं। क्योंकि यह कैलोरी को जला देता है।

ऊर्जा को बढ़ाये

 क्या आप जब उठते हैं, तो आप ऊर्जाहीन महसूस करते हैं ? यदि ऐसा है तो यह ऊर्जा का स्तर

बढ़ा देता है और आप अपनी दैनिक दिनचर्या ऊर्जा के साथ कर सकते हैं।

जोड़ों के स्वास्थ्य को बढ़ाता है

दौड़ना आपके स्नायुबंधन और नसों की ताकत को बढ़ाने में मदद करता है, जिससे जोड़ों की ताकत

बढ़ती है और एड़ियों और घुटनों के घायल होने की संभावना कम होती है।

दौड़ने से पहले इन बातों का ख्याल रखे 

1.)  सबसे पहले अपने डॉक्टर से जरूर मिलें और उनसे अपने दौड़ने के विषय में सलाह लें। यह

तब जरूरी होता है जब आपकी उम्र 40 या उससे अधिक हो, आपका मोटापा बहुत ज्यादा हो, लम्बे

समय से व्यायाम ना किया हो या आपको किसी अन्य प्रकार की स्वास्थ्य सम्बन्धी असुविधा हो तो।

daudne ke chamatkaari laabh

2.)  गर्म और आर्द्र वातावरण में बाहर न दौड़ें क्योंकि इससे आपकी ऊर्जा और क्षमता खत्म हो

जाएगी। गर्म मौसम में दौड़ना खतरनाक हो सकता है क्योंकि यह निर्जलीकरण, ऐंठन, हीट

ऐक्जाशन और हीट स्ट्रोक पैदा कर सकता है। हीट ऐक्जाशन से हीट स्ट्रोक हो सकता है जो घातक

हो सकता है। दौड़ने का सबसे अच्छा समय सुबह और देर शाम का है।

3.)  कठोर सतहों जैसे सीमेंट वाली सड़कों और ज़मीन पर दौड़ने से बचें। घास आउटडोर के लिए

एक बेहतर विकल्प है। सख्त सतह पर नियमित रूप से उच्च तीव्रता और उच्च प्रभाव वाली

गतिविधियां जैसे दौड़ना और जॉगिंग करने से मॅस्कुलोस्केलेटल (मांसपेशी और हड्डी ) की क्षति हो

सकती है।


Also Read : बिहार में गर्मी का कहर, लू लगने से 112 लोगों की मौत



Share :
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    1
    Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *