चिकिनगुनिया होने के क्या लक्छ्ण हे?

Share :
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

लोगों को यह अनुभव हो सकते हैं:

दर्द की जगह: आंखों का पिछला हिस्सा, जोड़, पेट, या मांसपेशी

पूरे शरीर में: बुखार, ठंड लगना, या थकान

यह होना भी आम है: जोड़ों में लगातार दर्द, त्वचा पर ददोरा, या सिरदर्द

चिकनगुनिया के कारण और लक्षण

चिकनगुनिया, वायरल इन्फैक्शन के कारण, मानसून के मौसम के दौरान आम तौर पर होने वाली कुछ बीमारियों में से एक है। यह बीमारी मनुष्यों में, चिकनगुनिया वायरस ले जाने वाले मच्छरों के काटने के कारण होती है!ऐडीस इजिप्ती और एडीस एल्बोपिक्टस मच्छर वे हैं जो वायरस लेकर आते हैं।

chikan guniya

चिकनगुनिया के क्या कारण है?

मच्छर से उत्पन्न बीमारी, चिकनगुनिया, मुख्यत:,एशिया, अफ्रीका, यूरोप और अमेरिका में होने वाली बीमारी है जो ,तेजी से खतरनाक होती जा रही है। चिकनगुनिया वायरस व्यक्ति से व्यक्ति में संचारित होता है अगर, उपरोक्त प्रजातियों की मादा मच्छर उन्हें काटती हैं तो। बीमारी आमतौर पर काटने के 4 से 6 दिनों तक अपने लक्षण दिखाना शुरू नहीं करती है। ये मच्छर आमतौर पर दिन और दोपहर के समय में काटते हैं, और चिकनगुनिया के मच्छर घर से ज्यादा बाहर काटते हैं। हालांकि, वे घर के अंदर भी पैदा हो सकते हैं।

आइए अब इस बीमारी के कुछ सामान्य लक्षणों पर नज़र डालें-

लक्षण

विश्व स्वास्थ्य संगठन इस बीमारी के प्रमुख लक्षणों के बारे में निम्नलिखित बताता है -–

1. अचानक बुखार

2. हड्डियों में दर्द

3. मांसपेशियों में दर्द

4. सरदर्द

5. नोसिया

6. थकान

7. रैशेस

हालांकि, ये लक्षण बहुत सामान्य लगते हैं और कई अन्य कारणों से भी हो सकते हैं, लेकिन यदि यह कुछ दिनों से अधिक समय तक बने रहते हैं तो सलाह दी जाती है कि आप खुद की जांच चिकित्सकीय पेशेवर द्वारा करा लें।

अगर इसका इलाज नहीं किया जाता है, तो यह आंखों के नुकसान के साथ-साथ न्यूरोलॉजिकल और हृदय संबंधी जटिलताओं सहित बड़े नुकसान का कारण बन सकता है। पुराने मरीजों में, यदि इसका इलाज नहीं किया जाएं तो इससे मृत्यु भी हो सकती है।


Share :
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *