ब्‍लूबेरी के फायदे और नुकसान

Share :
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

ब्‍लूबेरी के फायदे और नुकसान

ब्‍लूबेरी के फायदे और नुकसान – ब्‍लूबेरी का नाम सुनते ही मुंह में पानी आ जाता है। ब्‍लूबेरी एक

स्‍वादिष्‍ट फल है जो स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी समस्‍याओं को दूर करने में सहायक होता है। ब्‍लूबेरी के बारे में

कहा जाता है कि यह एंटीऑक्‍सीडेंट और फाइटोन्‍यूट्रिएंट्स का सबसे अच्‍छा स्रात है। ब्‍लूबेरी खाने

के फायदे तो होते ही हैं साथ ही ब्‍लूबेरी जूस के फायदे भी आपके स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देते हैं। ब्‍लूबेरी

के फायदे कोलेस्‍ट्रॉल को कम करने, हृदय को स्‍वस्‍थ रखने, मधुमेह को नियंत्रित करने और

रक्‍तचाप संबंधी समस्‍याओं को दूर करने में सहायक होते हैं। हालांकि ब्‍लूबेरी के साइड इफेक्‍ट भी

आपके स्‍वास्‍थ्‍य को प्रभावित कर सकते हैं। 

ब्‍लूबेरी के पोषक तत्‍व:

ब्‍लूबेरी में पोषक तत्‍वों की मौजूदगी बहुत ही उच्‍च होती है। साथ ही इस फल में कैलोरी कम होती

है जबकि फाइबर भीअच्‍छी मात्रा में होता है। शोध के अनुसार ब्‍लूबेरी में विटामिन सी, विटामिन

K विटामिन बी6, फोलेट, पोटेशियम, कॉपर और मैंगनीज की अच्‍छी मात्रा होती है। इन ब्‍लूबेरी

खाने के फायदे इसलिए भी हैं क्‍योंकि इनमें कार्बोहाइड्रेटऔर सोडियम की मात्रा बहुत ही कम होती

है। इसके अलावा ब्‍लूबेरी में पानी भी अच्‍छी मात्रा में होता है।

ब्‍लूबेरी के फायदे और नुकसान :

ब्‍लूबेरी के फायदे और नुकसान

1.मानिसक स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ाएं:-

ब्‍लूबेरी खाने के फायदे न केवल आपको ऊर्जा दिलाने बल्कि आपके दिमाग को तेज करने में भी

होते हैं। नियमित रूप से ब्‍लूबेरी का सेवन करना आपकी याद रखने की क्षमता को बढ़ाता है।

इसके अलावा यह आपकी दैनिक सहनशक्ति (स्टेमिना) को भी बढ़ाने में सहायक होता है। 

2.शारीरिक स्‍वास्‍थ्‍य के लिए –

नियमित रूप से सेवन करने पर ब्‍लूबेरी आपकी सेहत और स्‍वास्‍थ्‍य पर नजर रखता है। इसका

मतलब यह है कि ब्‍लूबेरी में मौजूद पोषक तत्‍व और खनिज पदार्थ आपके बेहतर स्‍वास्‍थ्‍य को बनाए

रखने में अहम योगदान देते हैं। विशेष रूप से ब्‍लूबेरी खाने के फायदे पाचन संबंधी समस्‍याओं को

दूर करने में होते हैं। जिससे संपूर्ण शरीर के स्‍वस्‍थ रखने में मदद मिलती है।

3.ब्‍लबेरी बेनिफिट्स फॉर हेयर:-

ब्‍लूबेरी के फायदे

बालों को स्‍वस्‍थ रखने वाले लगभग सभी गुण ब्‍लूबेरी में मौजूद रहते हैं। यदि आप अपने बालों को

घना, मुलायम और चमकदार रखना चाहते हैं तो ब्‍लूबेरी का उपयोग कर सकते हैं।


Also Read:- देश में बंपर सरकारी नौकरियां


4.ब्‍लूबेरी के फायदे और नुकसान :स्‍वस्‍थ हड्डी के लिए:-

ब्‍लूबेरी के फायदे

ब्‍लूबेरी आपकी हड्डियों को स्‍वस्‍थ रखती है। अध्‍ययनों ने भी इस बात की पुष्टि की है कि ब्‍लूबेरी में

मौजूद पोषक तत्‍व और खनिज पदार्थ हड्डियों को मजबूत और सख्‍त बनाने में सहायक होते हैं।

5.ब्‍लूबेरी खाने के फायदे मधुमेह के लिए:-

मधुमेह एक गंभीर बीमारी बन चुकी है। कोई व्‍यक्ति शरीर में उच्‍च शर्करा स्‍तर या निम्‍न शर्करा के

स्‍तर से परेशान है। लेकिन इस प्रकार की सभी समस्‍याओं को ब्‍लूबेरी के नियमित सेवन से दूर

किया जा सकता है। यदि आप भी उच्‍च या निम्‍न रक्‍त शर्करा स्‍तर संबंधी लक्षणों से परेशान हैं तो

अपने दैनिक आहार में ब्‍लूबेरी को शामिल कर लाभ प्राप्‍त कर सकते हैं।

6.ब्‍लूबेरी का सेवन कैंसर से बचाये :-

ब्‍लूबेरी में विटामिन सी और विटामिन ए की अच्‍छी मात्रा होती हैं जो कि एक प्रकार के

फाइटोन्‍यूट्रिएंट्स होते हैं। ये विभिन्‍न प्रकार के प्रभावी पोषक तत्व हैं जो शरीर के अंगों जैसे फेफड़ों,

अन्‍नप्रणाली, पेट, मुंह, अग्न्याशय आदि में कैंसर की कोशिकाओं के निर्माण को रोकने में मदद

करते हैं।

ब्‍लूबेरी के नुकसान :-

  • ब्‍ लूबेरी में सैलिसिलेट की अच्‍छी मात्रा होती है। इसलिए जिन लोगों को सैलिसिलेट संबंधी एलर्जी की समस्या है उन्‍हें अधिक मात्रा में ब्‍लूबेरी का सेवन करने से बचना चाहिए।
  • ब्‍लूबेरी में विटामिन K की उच्‍च मात्रा होती है। जिसके कारण अधिक मात्रा में ब्‍लूबेरी का सेवन करने से निगलने, सांस लेने, बोलने और पाचन संबंधी समस्‍याओं का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए लोगों को अधिक मात्रा में ब्‍लूबेरी का सेवन करने से बचना चाहिए।
  • मधुमेह रोगी के लिए ब्‍लूबेरी के नुकसान हो सकते हैं यदि वह अधिक मात्रा में इनका सेवन करता है। क्‍योंकि अधिक मात्रा में ब्‍लूबेरी का सेवन करने से शरीर में रक्‍त शर्करा का स्‍तर बहुत ही निम्‍न स्‍तर पर जा सकता है।
  • गर्भावस्‍था और स्‍तनपान कराने वाली महिलाओं को ब्‍लूबेरी का सेवन करने से पहले अपने डॉक्‍टर से सलाह लेनी चाहिए।
  • यदि आप किसी विशेष प्रकार की दवाओं का सेवन कर रहे हैं। तब भी नियमित रूप से ब्‍लूबेरी का सेवन करने से पहले अपने डॉक्‍टर की अनुमति लेना अनिवार्य है।

Also Read:- International Yoga Day 2019





Share :
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *