बेर खाने के फायदे और नुकसान

Share :
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

बेर खाने के फायदे और नुकसान

बेर खाने के फायदे और नुकसान– वसंत के मौसम में हमें प्राकृतिक और मौसमी फलों का

इंतेजार रहता है। पकी हुई बेर का नाम सुनते ही आपके मुंह में पानी आना लाजमी है क्‍योंकि यह

फल है ही इतना स्‍वादिष्‍ट। लेकिन इन बेरों का सेवन करने के साथ ही आपाको बेर खाने के फायदे

और नुकसान को जानना आवश्‍यक है। बेर खाने के फायदे वजन कम करने, हृदय स्‍वास्‍थ्‍य को

बढ़ाने, कैंसर रोकने, रक्‍तचाप नियंत्रित करने, पेट की समस्‍याओं आदि के लिए होते हैं। 

बेर की तासीर:-

सामान्‍य रूप से यदि देखा जाए तो बेर की तासीर ठंडी होती है। अक्‍सर आपने अनुभव किया होगा

कि बड़े बुजुर्ग बेर खाने से मना करते हैं। क्‍योंकि अधिक मात्रा में बेर खाने से सर्दी हो सकती है। यह

बेर की ठंडी तासीर के कारण ही होता है। आइए जाने बेर की तासीर के साथ ही बेर में पाए जाने

वाले पोषक तत्‍व क्‍या हैं।

बेर खाने के फायदे:-

बेर खाने के फायदे

1.बेर खाने के फायदे वजन कम करने में –

जो लोग अपना वजन कम करना चाहते हैं उनके लिए बेर खाने के फायदे होते हैं। क्‍योंकि बेर

में कोलेस्‍ट्रॉल बहुत ही कम मात्रा में होता है। इसके अलावा बेरी में फाइबर और प्रोटीन भी अच्‍छी

मात्रा में होता है। जिसके कारण यह आपको उचित ऊर्जा दिलाने में सहायक होते हैं। लेकिन इसमें

मौजूद फाइबर और अन्‍य पोषक तत्‍व आपकी भूख को नियंत्रित करते हैं और आपकी पूर्णता की

भावना को बढ़ाते हैं।

2.हृदय स्‍वास्‍थ्‍य के लिए-

बेर खाने के फायदे और नुकसान

नियमित रूप से बेर का सेवन हृदय को स्‍वस्‍थ रखने में मदद करता है। क्‍योंकि बेर में पोटेशियम

की अच्‍छी मात्रा होती है साथ ही यह सोडियम में भी कम है। बेर के इन गुणों के कारण यह रक्‍त

वाहिकाओं को आराम दिलाने में सहायक होते हैं।

3.रक्‍तचाप को नियंत्रित करे-

शरीर में उचित रक्‍त परिसंचरण होता है तो शरीर में पर्याप्‍त ऑक्‍सीजन की पूर्ति होती है। आमतौर

पर ऑक्‍सीजन के उचित प्रवाह के कारण शरीर में ऊर्जा का प्रवाह बढ़ जाता है। आप

अपने रक्‍तचाप को नियंत्रित करने और ऊर्जा प्राप्‍त करने के लिए बेर के फायदे प्राप्‍त कर सकते हैं।

इसके लिए आप नियमित रूप से कुछ पकी हुई बेरों का सेवन कर सकते हैं।

4.प्रतिरक्षा बढ़ाने में मदद करे-

तिरक्षा शक्ति को बढ़ाने के लिए बेर का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। बेरी में विटामिन ए, विटामिन सी

और अन्‍य खनिज पदार्थ होते हैं। ये सभी घटक शरीर के लिए एंटीऑक्‍सीडेंट का काम करते हैं।

इनकी मौजूदगी शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में सहायक होती है। ये घटक शरीर को

फ्री रेडिकल्‍स से होने वाले नुकसान जैसे कि कैंसर, हृदय रोग और अन्‍य समान्‍य बीमारियों से बचाते हैं।

5.तनाव को कम करें –

 बेर का उपयोग तनाव, अवसाद और अन्‍य मानसिक समस्‍याओं को दूर कर सकती है। क्‍योंकि यह

शरीर और दिमाग में शांत प्रभाव छोड़ती है। अध्‍ययनों से पता चलता है कि नियमित लेकिन कम

मात्रा में बेरी का सेवन चिंता को कम कर सकता है।

बेर खाने के नुकसान:-

स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बेर खाने से किसी प्रकार के नुकसान नहीं होते हैं। लेकिन फिर भी मधुमेह रोगी को

इसका सेवन करने से बचना चाहिए। क्‍योंकि इसमें कार्बोहाइड्रेट की उच्‍च मात्रा होती है। जो उनके

शरीर में रक्‍त शर्करा के स्‍तर को प्रभावित कर सकती है।

अधिक मात्रा में बेर का सेवन करने से उनीदापन, दस्‍त, भूख की कमी और‍ शरीर में सूजन जैसी

समस्‍याएं हो सकती हैं। इस तरह से बेर खाने के फायदे अधिक और नुकसान कम हैं। इसलिए

आप सावधानी के साथ इस खाद्य फल का उपभोग कर सकते हैं।


Share :
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *